Tamasha (तमाशा)

… किसे पड़ी है… अंदर क्या है?
फरेबी… हीर खोजे वीराने में…?
कौन से रंग का दिल है तेरा?
………….

Tamasha तमाशा

Imtiyaz Ali, Irshad Kamil, A. R. Rahman, Ranbir Kapur, Deepika Padukone, Piyush Mishra


तू कोई और है
जानता है तू
सामने इस जहां के
इक नक़ाब है
तू और है, कोई और है
क्यों नहीं वो, जो है

तू जहां के वास्ते ख़ुद को भूल कर
अपने ही साथ ना ऐसे ज़ुल्म कर
खोल दे वो गिरह
जो लगाए तुझपे तू
बोल दे तू कोई और है
चेहरे जो ओढ़े तूने वो
तेरे कहाँ हैं

सामने आ, खोल दे सब
जो है दिल में बोल दे अब
सामने आ, खोल दे सब
जो है दिल में बोल दे अब

टेढ़े रास्ते, ख़्वाब हैं तेरे
तेरे साथ जो उम्र भर चले
ओ इन्हें गले लगा
तू कौन है बता
ओ खोल दे ये गिरह

तू कोई और है
तेरी ना हदें
आसमान है
ख्याल है
बेमिसाल है
तू मौज है
तू रौनक़ें
चाहे जो तू, वो है


Tamasha is a favorite in many ways…

कौन सा तारा? चक्कर क्या है? किसे चाहिए मन का सोना… आँख के मोती? कौन से रंग का दिल है तेरा? क्या चाहता है?

Have posted few scenes that make the movie what it is… A classic which will get better with time…

The Story scene of Piyush Mishra and Ranbir is all you need to know… The eternal truth so beautifully presented in this amazing scene.

That’s the final message from Gita, Buddha, Osho, Kabir and whoever you want to believe in this life or next…

तेरा साईं तुझ में है – तू जाग सके तो जाग…


Here is a writeup – एक नज़्म from Dr. Anurag Arya (from his FB post) on Tamasha

किसी सुबह गर एक लिफाफा तुम्हारे दरवाजे के पास पड़ा मिले

जिसमे कैनवस पर हो अलहदा सी एक तस्वीर तुम्हारी , कुछ बोसीदा से कागज जिसमे किसी और तरीके से तक्सीम किया हो तुम्हारी ज़िंदगी को, अपने उस हमशक्ल को देखो तुम .

और सोचो “कोई और” भी हो सकते थे तुम इस ज़िंदगी में !

(खुदा का प्लान 2 )

मै एक किस्सा -गों हूँ
जिसके भीतर
कई कहानिया शोर करती है
उनके किरदारों से
लड़ते लड़ते मै थक गया हूँ
मै अक्सर वक़्त के वरक उलटता हूँ
के शायद कोई रसूल आये
और
अपनी जेबो में
इन किरदारों को भर कर ले जाये.

P.S. – मुझमें ज़िंदगी की सलाहियत कम है पर “तमाशा” का हासिल मेरे लिए यही है ।

Dr. Anurag Arya


And here is the song – very close to my heart… : Heer toh badi sad hai…

I love the performers – the Punjabi crew – specially the singer in red… 😊

उस बंदे को देख कर Happy हो जाता हूँ… Deepika को देख कर Sad… और Happy भी…

my all time favourite The Happy Sad Song…

हीर तो बड़ी sad है जी… Singer : Mika

अच्छा – खराब by Dr. Anurag Arya

बिछुड़ा हुआ जब कोई मिलकर असल जिंदगी के किरदार में से “अच्छे” लोगो का जिक्र करता है तो मै साथ साथ कुछ “ख़राब” लोगो को याद करता हूँ .

बचपन में मोहल्ले के बच्चो की भीड़ में “सबसे अच्छे “माने जाने वाले शख्स की बूढी माँ बीमार हालात में भी अपने पति को लेकर रिक्शा में दरबदर जुदा जुदा डोकटरो के यहाँ भटकती फिरती है .मुंह से उन्होंने अपने दोनों बेटो की शिकायत नहीं की है , जानता हूँ कभी करेगी भी नहीं। पर ये भी जानता हूँ के उनके बेटो की अब दूसरे शहर में नौकरी करने की “मजबूरी” वाली स्टेज नहीं रही है। ना उन्हें अपने पास बुलाने की प्रेक्टिकल मुश्किलें रही है ।

“खराब “कहे जाने वाली लड़की अपने हसबैंड की पेराप्लेजिक माँ की देखभाल के वास्ते अपना फुल फ्लैज्ड कैरियर छोड़ चुकी है .जिसकी तनख्वाह से वो फुल टाइम नर्स आराम से एफ़ोर्ड कर सकती थी उस बुरी लड़की को अपने बच्चे ओर इस ज़िम्मेदारी को लेकर न कोई कोफ़्त है ,न कोई शिकवा । वो हमेशा मुस्कराती हुई मिलती है।

वक़्त भी मुआ ” अच्छे -ख़राब” के पाले बदल देता है !

P.S –
सुना है बरसो से आत्मा को “जागते” रहो के हुंकारे लगाते चौकीदार के वोकल कार्ड को रेस्ट की सलाह मिली है. ज़िद्दी है पर मानता नहीं…!

Dr. Anurag Arya


This is from my FB contact Dr. Anurag Arya from Meerut. He is an FB friend whom I don’t know personally, even can’t remember how we became friends through FB…!

कुछ लोग भी FB की पोस्ट की तरह होते है… देखते ही भा जाते है… खुशबू जैसे अफसाने वाले लोग…

The way he sees the world and they way he narrates… I am a fan, always.

Above pic and writeup is posted the same way he has posted on his FB page.